बिहार के वैशाली लालगंज में शराब पर गिरी गाज

Spread the love

वैशाली जिले में शराब बेचने वालों के धंधे पर प्रशासन यमराज बन कर टूट रही है । वैशाली जिले में एक जगह शराब छापेमारी कर शराब किया गया जब्त तो दूसरी जगह शराब की भटटिया की गयी ध्वस्त ।

आपको जरा विस्तार में बताते हैं । वैशाली जिले के लालगंज थाने के थानाप्रभारी सुनील कुमार ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी की।जिसमें सात कार्टून विदेशी शराब बरामद हुई। सुनील कुमार के साथ पीएस आई सुनील कुमार ,एस आई रंगलाल तिवारी ने जब नगर पंचायत के पटवा टोली में छापेमारी की तो शराब तो बरामद हुई और कारोबारी राजू महतो फरार पाया गया।शराब को जब्त कर थाने ले जाया गया।

वहीं दूसरी तरफ बिदुपुरथाना क्षेत्र के सैदपुर गणेश पंचायत लिटिया दियर में सोमवार को पुलिस ने केले के बागान में चल रहे देसी शराब भट्टी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए, चार शराब भट्टी को ध्वस्त कर दिया, हालांकि इस दौरान पुलिस की कार्रवाई की जानकारी होने पर सभी धंधेबाज फरार हो गए, शराब भट्टी के खिलाफ पुलिस की कारवाई, आज  दोपहर से लेकर शाम तक चली ।

मिली जानकारी के अनुसार बिदुपुर थाना के सैदपुर गणेश पंचायत लिटीयाही दियारा में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए चार देसी शराब भट्टी के साथ लगभग 10,000 लीटर कच्चा जावा, 250 लीटर शराब, 14 शराब बनाने वाले उपकरण, मीठा का बोरा , गैलन, दर्जनों प्लास्टिक सहित सभी सामान तोड़फोड़ कर नष्ट कर दिया गया है, इस बारे में जानकारी देते हुए मध निषेध इकाइ बिहार पटना अवर निरीक्षक अजीत कुमार ने बताया कि  पुलिस को शराब भट्टी चलाएं जाने की सूचना मिली थी इसके आधार पर कार्रवाई करते हुए चार देसी शराब भट्ठी को नष्ट किया गया है और उन्होंने बताया कि मध निषेध टीम इकाइ बिहार पटना एवं एक्साइड टीम वैशाली व कई थाना मिलकर एक टीम गठित करके 7 दिनों से शराब के खिलाफ अभियान चला रही है । लोकल स्तर पर सूचना मिलने पर देशी शराब भट्टी छापा मार कर उसे ध्वस्त कर दिया जाता है।

हालांकि बड़ा सवाल है ये भी है कि जब बिहार में शराब बंदी है तो फिर इन धंधेबाजों को फलने फूलने का मौका कहाँ से मिल रहा है । चुनाव से पहले सरकार भी सख्त हो चुकी है और प्रशासन के तेवर तल्ख नजर आ रहे हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


hi