रेप पर लागू हुआ सख्त कानून, राष्ट्रपति ने लगाई मुहर

0
27
रेप पर लागू हुआ सख्त कानून

कठुआ कांड को लेकर देश भऱ में बच्चियों के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर फांसी की सजा की मांग की जा रही थी, जोकि अब पूरा हो चुका है। जी हां, राष्ट्रपति ने इस अध्यादेश पर मुहर लगाने में 24 घंटे का भी समय नहीं लगा। नया कानून आज से ही लागू हो चुका है, जिसके तहत अब बच्चियों के बलात्कारियों को फांसी की सजा दी जाएगी। जानते हैं कि क्या खास है?

बच्चियों के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर सख्त कानून को लागू कर दिया गया है। जी हां, इस कानून के तहत 12 साल तक की बच्ची के साथ रेप करने वाले को फांसी की सजा दी जाएगी। इसके अलावा केस को जल्दी से जल्दी खत्म करने का प्रावधान भी है।

Loading…

उन्नाव, सूरत, कठुआ, एमपी जैसी घटनाओं ने पूरे देश को झकझोंर के रख दिया था। एक आवाज में पूरे देश ने फांसी की सजा की मांग की तो सरकार को इसको लेकर जल्दी ही फैसला लेना पड़ा। बता दें कि पीएम मोदी विदेश दौरे से लौटने के तुरंत बाद ही कैबिनेट की बैठक में यह अध्यादेश लाया गया, जिस पर अब राष्ट्रपति की सहमति मिल गई है।

रेप पर लागू हुआ सख्त कानून

नये कानून के तहत नाबालिग से रेप के मामले को 10 महीने के अंदर खत्म करने का आदेश है। साथ ही अगर किसी केस को लेकर जल्दी सुनवाई की अपील की गई हो तो केस को 6 महीने के अंदर खत्म करने का प्रावधान भी है। इसके अलावा महिलाओं के साथ रेप करने वालों को 10 साल से लेकर उम्रकैद की सजा हो सकती है।

रेप पर लागू हुआ सख्त कानून, नये कानून के तहत सजा

  • जन्म से लेकर 12 साल की कम उम्र तक की नाबालिग के गैंगरेप की स्थिति में या तो पूरी जिंदगी जेल में गुजारनी होगी या फिर मौत की सजा।
  • 12 साल से 16 साल की उम्र में गैंगरेप के मामले में दोषियों को ताउम्र जेल में गुजारनी होगी।
  • 16 साल से कम उम्र की नाबालिग के साथ रेप के दोषी के लिए कम से कम 20 साल जेल में गुजारनी होगी जिसे पूरी जिंदगी तक के लिए बढ़ाया जा सकता है।
  • किसी महिला के साथ गैंगरेप या सिर्फ रेप के मामले में दोषियों को 10 से लेकर ताउम्र की सजा हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here