मिट्टी में मेहंदी का रंग ढूँढने वाली जनता को सलमान का करारा जवाब

Spread the love

कलाकार का काम समाज के सामने उसकी परिकल्पना को रखना होता है । कलाकार का काम किसी व्यक्ति, किसी समुदाय या किसी क्षेत्र के संघर्षों की कहानी को दिखाना होता है । रील लाइफ और रियल लाइफ में कोई मेल नही होता, ये सबको पता है लेकिन फिर भी लोग दंगल जैसी फिल्म देख कर फोगाट परिवार के संघर्ष को जानते है, बिना ये उम्मीद किए कि आमिर खान कभी मिट्टी में चार पटखनी खाये भी होंगे । सुशांत सिंह राजपुत की फिल्म एमएस धोनी देख के लोग धोनी के जीवन संघर्ष को महसूस करते हैं, भले ही सुशांत ने कभी टिकट ना बेची हो । फिर सलमान खान ने जब किसानों के संघर्ष को दिखाने की कोशिश की तो लोग क्यों उसके हाथो की मिट्टी का रंग देखने लगे, उन भावनाओं को देखने के अलावा ? कलाकार अगर किसानों के आत्महत्या के मुद्दे को दर्शको को दिखाना चाहे तो क्या उसे फांसी लगवा देगी जनता ?

View this post on Instagram

Respect to all the farmers . .

A post shared by Salman Khan (@beingsalmankhan) on

सलमान खान ने कुछ दिन पहले अपने सोशल मीडिया अकाउंट से एक फोटो शेयर कि थी जिसमे वो मिट्टी से सने नजर आ रहें थे । सलमान ने किसानों के कठोर परिश्रम को अपने द्वारा दिखने की कोशिश की थी । जनता ने किसान की तरफ देखना तक जरूरी नही समझा। पूर्वाग्रह से ग्रस्त जनता ने सलमान के तस्वीर में कमियाँ निकलनी शुरू कर दी । गालियां दी गई और ट्रोल किया जाने लगा । एक खास वर्ग ने सलमान के इस तस्वीर को दिखावटी करार दिया । जिसके जवाब में सलमान ने आज उसी फोटो के पीछे की पूरी विडियो पोस्ट की है । अपने instagram अकाउंट से शेयर किए गए इस विडियो में वो उस तस्वीर के पीछे की हकीकत रख रहें है जिसको जनता से बेढंगे तरीके से ट्रोल किया था ।

View this post on Instagram

Farminggg

A post shared by Salman Khan (@beingsalmankhan) on

सलमान दलदल मिट्टी में किसानों जैसा ही काम कर रहें है । ट्रैक्टर चला रहें है । किसानी कर रहे है । जाहीर सी बात है, वो खेती करने का अनुभव ले रहें है और वो शौकिया है लेकिन अगर इस माध्यम से वो अपने चाहने वालों को किसानों के लिए प्रेम और आदर का संदेश देना चाहते है तो इसमें गलत क्या है ? सन्नी पाजी ने भी कभी बंदूक ना चलाई होगी लेकिन उन्हे तो बड़ा देशभक्त मानती है ये कल्पनाओं में जीने वाली जनता । फिर से यही कहना है कि अभिनता का काम होता है अभिनय करना । सलमान ने खेती की या नहीं की ये मुद्दा है ही नहीं । सलमान ने किसानों का संघर्ष खुद के जरिये दिखाने की कोशिश की है, और बताया है कि ये कोई आसान काम नहीं, आप बस ये देखिये । अभिनय और असलियत में फर्क समझिए । अभिनेता ने अपनी ज़िम्मेदारी निभाई है… क्या जनता निभा रही है, ये भी वक़्त मिले तो जरूर सोचिए , बिना किसी पूर्वाग्रह या विचारधारा से ग्रस्त हुए ।

 

Read More- 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


hi