युवाओं में तेजी से फैल रही है ये बिमारी, नहीं पढ़ेंगे तो बहुत पछताएंगे

0
105
कार्पल टनल सिंड्रोम

आजकल की लाइफस्टाइल भले ही आसान हो गई हो, लेकिन इसके कई तरह के साइड इफैक्ट भी देखने को मिल रहे हैं। जी हां, अगर आप भी ऑफिस में घंटो बैठकर काम करते हैं, तो आपके लिए यह बड़ी मुसीबत बन सकती है। आजकल युवाओं में कम्प्यूटर और लैपटॉप का क्रेज बहुत ज्यादा है, लेकिन यह क्रेज उनपर भारी पड़ता हुआ नजर आ रहा है। चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

लगातार टाइपिंग करने से आपको एक गंभीर बिमारी हो सकती है, जिसे आम भाषा में साढ़े तीन ऊंगली की बिमारी भी कहते हैं। यह बिमारी उन लोगों  को ज्यादा होती है, जो सालों से कम्प्यूटर पर काम कर रहे हैं। ज्यादा टाइपिंग की वजह से यह बिमारी होती है। रिपोर्ट्स की माने तो दुनिया भर में युवा इस बिमारी से ग्रसित होते जा रहे हैं।

बताते चलें कि आमतौर पर यह बिमारी आपकी कलाई और हाथ की उंगलियों को शिकार बनाती है, लेकिन कई बार दर्द बढ़कर बाहों तक भी पहुंच जाता है, यह दर्द कई बार असहनीय हो जाता है, जिसकी वजह से आप काफी चिढ़चिढ़े भी हो जाते हैं।

कार्पल टनल सिंड्रोम

कार्पल टनल सिंड्रोम की बिमारी दुनिया भर में तो है ही, लेकिन इस बिमारी से अब भारत भी पीछे नहीं रहा है। जी हां, भारत में युवा पीढ़ी इसकी चपेत में है। बता दें कि घंटो टाइपिंग की वजह से यह बिमारी काफी परेशान कर सकती है, लेकिन अगर आप अपना थोड़ा सा ख्याल रखेंंगे तो इससे बच सकते हैं।

बिमारी के लक्षण

बता दें कि इस बीमारी में मरीज के कलाई, अंगूठा, अंगूठे के साथ वाली दो उंगलियों और तीसरी आधी उंगली में दर्द होने लगता है। ऐसे में अगर आपको हाथों में दर्द हो या फिर किसी नस में काफी दबाव महसूस हो तो आप इस बिमारी से ग्रसित हो सकते हैं। बता दें कि कार्पल टनल सिंड्रोम एक विशेष प्रकार की नर्व पर पड़ने वाले दबाव से होने वाली परेशानी है। अगर आप रोजाना 4 से 5 घंटे की टाइपिंग करते हैं, तो यह बिमारी आपको जकड़ सकती है।

बिमारी की वजह

कार्पल टनल सिंड्रोम

आपको बता दें कि कलाई पर लगातार पड़ने वाला दबाव (कम्प्यूटर पर लगातार काम करने या किसी खेल में कलाई का बहुत उपयोग), काम का बहुत बोझ लेना, हाथों पर जोर पड़ना, या फिर कभी कभी चोट भी इस बिमारी को दावत देता है।

कैसे बचें इस बिमारी से

इस बिमारी पर काबू पाया जा सकता है, लेकिन इसके लिए आपको खुद को ध्यान देना होगा। जी हां, कार्पल टनल के दर्द को एक्सरसाइज से भी काबू पाया जा सकता है, लेकिन इसके लिए कलाई और उंगलियों से जुड़ी एक्सरसाइज इसमें बहुत मददगार साबित होती हैं। अगर आपको असहनीय पीड़ा हो तो आपको डॉक्टर से जरूर चेकअप कराएं।

सावधानी बरतें

अगर आप काफी देर तक टाइपिंग करते हैं, तो आपको बीच बीच में रेस्ट लेने की जरूरत है। लगातार टाइपिंग की वजह से यह बिमारी होती है। पुरूषों के अपेक्षा महिलाओं को इस बिमारी का ज्यादा खतरा रहता है, ऐसे में महिलाओं को अपने हाथो में नियमित तौर से मसाज करना चाहिए। इन सबके अलावा आपको थोड़ी थोड़ी देर में पानी जरूर पीना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here