डेंगू का बुखार : जानिए क्या है इसका कारण, लक्षण और घरेलू उपाय?

0
डेंगू का बुखार

डेंगू का बुखार इन दिनों तेज़ी से पैर पसार रहा है। कई बार यह एक जानलेवा बीमारी साबित हो चुकी है। ऐसे में अगर इसके इलाज में किसी तरह की लापरवाही होती है, तो इससे पीड़ित व्यक्ति की जान भी जा सकती है। वक्त रहते ही इसके लक्षण को पहचान कर सही इलाज करके इस पर काबू पाया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं कि डेंगू का बुखार का लक्षण, कारण और घरेलू इलाज क्या है?

कैसे होता है डेंगू का बुखार

डेंगू का बुखार मादा एडीज इजप्टि मच्छर के काटने से होता है। इस मच्छर के शरीर में चीते जैसी धारियां होती हैं, जोकि अक्सर सुबह या दोपहर को काटते हैं। यह मच्छर जमीन पर पाएं जाते हैं, क्योंकि यह अधिक ऊचाई पर उड़ने में असफल होते हैं।

कैसे फैलता है डेंगू का बुखार

डेंगू का बुखार

यह एक वायरल फीवर की तरह होता है, जोकि एक इंसान से दूसरे इंसान में आसानी से प्रवेश कर सकता है। दरअसल, जब कोई एडीज मच्छर डेंगू के मरीज को काटता है तो वो मरीज का खून चूसता है और खून के साथ डेंगू वायरस भी मच्छर के शरीर में आ जाता है। इसके बाद जब वह मच्छर किसी अन्य व्यक्ति को भी काटता है, तो इससे वह व्यक्ति भी डेंगू का शिकार हो जाता है।

डेंगू का लक्षण

डेंगू का बुखार

अगर आपको बुखार के साथ नीचे बताए गए लक्षण महसूस हों तो यह डेंगू का लक्षण हो सकता है-

  • भूख न लगना
  • उल्टी दस्त होना
  • त्वचा पर लाल चकते पड़ना
  • नाक से खून आना
  • जी मिचलना
  • गले में हल्का हल्का दर्द होना
  • अचानक से ठंड लगाने के बाद तेज बुखार हो जाना।
  • हाथ पैर में तेज दर्द होना भी इनके लक्षणों में है।
  • सिर मांसपेशियों और जोड़ों में तेज दर्द
  • बहुत ज्यादा कमजोरी लगना।

डेंगू का बुखार का घरेलू इलाज

डेंगू के बुखार से नीचे लिखे गए घरेलू उपायों को आज़मा कर राहत पाई जा सकती है –

1. नारियल पानी पीएं

डेंगू का बुखार

डेंगू का बुखार होने पर मरीज को नारियल पानी पीना चाहिए। इसमें बहुत अधिक मात्रा में इलेक्ट्रोलाइट्स होती है और यह मिनरल्स का अच्छा स्त्रोत है। इसलिए डेंगू होने पर मरीज को नारियल पानी पीना नहीं भूलना चाहिए।

2. अनार खाएं

डेंगू के मरीजों को अनार ज़रूर खाना चाहिए, इसमें मौजूद गुण से ब्लड सेल्स में कमी नहीं आएगी और मरीज तेज़ी से ठीक हो सकता है।

3. तुलसी का पत्ता खाएं

डेंगू होने पर मरीज़ को रोज़ाना तुलसी के पत्ती खानी चाहिए। जी हां, इसको खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और मरीज जल्दी से ठीक होने लगता है।

4. सेब का जूस पीएं

डेंगू होने पर मरीज को सेब का जूस पीना चाहिए। सेब में मौजूद गुण ब्लड सेल्स को कम होने से रोकते हैं और डेंगू के मरीजों को तेज़ी से ठीक करने में सहायक है।

5. चूकंदर और गाजर का जूस पीएं

डेंगू के मरीजों को चूकंदर और गाजर का जूस पीना चाहिए। इसके लिए गाजर के रस में कुछ मात्रा चूकंदर के रस का मिलाएं और फिर पीएं। इसको पीने से ब्लड सेल्स में बढ़ोतरी होगी, जिससे मरीज तेज़ी से ठीक होगा।

डेंगू के बुखार से बचाव

यूं तो डेंगू का मच्छर किसी को भी कही भी काट सकता है, लेकिन कुछ सावधानियां अपनाकर इससे बचा जा सकता है, जोकि नीचे लिखी गई है –

  • घर के आसपास पानी न जमा होने दें।
  • घर की साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें।
  • शरीर को पूरे ढकने वाले कपड़े ही पहने।
  • साफ सुथरा पानी ही पीएं।

नोट – हैल्थ से जुड़ी तमाम जानकारियों के लिए न्यूज़ ग्लोब को फॉलो करना न भूलें। इस पोस्ट को अपने प्रियजनों के साथ ज़रूर शेयर करें।

इन्हें भी पढ़े – 

गर्मियों में अपनी डाइट में शामिल करें ये चीजें, जरूर पढ़िये

रोजाना भिंडी खाने से दूर होती हैं ये 5 बीमारियां, फायदे जानकर उड़ जाएंगे होश

बाजार से लाकर खातें है पनीर, तो 2 मिनट में ऐसे चेक करे शुद्ध है या मिलावटी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here