कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्क्रिय किए आज हुआ 1 साल, लेकिन क्या वाकई हुए हैं कश्मीर में बदलाव?

Spread the love

भारत के मुकुट कश्मीर से अनुच्छेद 370 को आज ही के दिन 5 अगस्त 2019 को समाप्त किया गया था। ‌आज अनुच्छेद 370 को समाप्त हुए एक वर्ष पूरा हो गया है। ‌आपको बता दें कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से काफी बदलाव देखने को मिले हैं कश्मीर के लोगों को एक और जहां आतंकवादी गतिविधियों में कमी मिली है तो वहीं अब लोगों को विकास से जुड़ने का अवसर भी मिला है। ‌

आतंकी गतिविधियों में आई है कमी:-

आपको बता दें कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद घाटी में आतंकी गतिविधियों में काफी कमी आई है। ‌गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक घाटी में होने वाली आतंकी घटनाओं में लगभग 36% की कमी आई है। ‌ मगर आपको बता दें कि अब तक घाटी में 180 से ज्यादा आतंकी मारे जा चुके हैं। ‌ साल की शुरुआत से लेकर जुलाई तक में 145 आतंकियों को मार‌ गिराया गया है। ‌

कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्क्रिय किए आज हुआ 1 साल, लेकिन क्या वाकई हुए हैं कश्मीर में बदलाव?
Source- google image

हालांकि, 5 अगस्त 2019 को कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने या फिर इसमें परिवर्तन करने के बाद से कश्मीर में माहौल थोड़ा नियंत्रण में जरूर आया है। ‌ जहां पिछले साल घाटी में आईईडी ब्लास्ट के 6 हमले हुए थे तो वहीं इस साल जुलाई तक में सिर्फ एक मामला सामने आया है। ‌भारतीय सेना ने हिजबुल मुजाहिदीन का टॉप कमांडर रियाज नैकू को भी मार गिराया। ‌ सेना ने पाकिस्तानी आईईडी एक्सपर्ट अबू रहमान उर्फ फौजी भाई को भी मार गिराया जो कि सेना की एक बहुत बड़ी उपलब्धि है।

सेना पर हो रहा है आए दिन हमला:-

एक और जहांघाटी में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद आतंकी गतिविधियों में कमी आई है तो वहीं दूसरी तरफ सेना पर हमले तेज हो गए हैं। एक साल में बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों और नागरिकों का मारा जाना भी काफी चिंताजनक है। इस साल 15 जुलाई तक 22 आम लोग और 36 सुरक्षाकर्मी मारे जा चुके हैं, तो वही पिछले साल जनवरी से लेकर 15 जुलाई तक 76 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए और 23 नागरिक मारे गए थे।

इसके साथ ही आपको बता दें कि घाटी में घुसपैठ के मामले में भी कोई कमी नहीं आई है। आए दिन सीमा पर घुसपैठ की खबरें सामने आ रही है। पाकिस्तान की ओर से सीमा पर लगभग हर दिन सीजफायर का उल्लंघन किया जाता रहा है।

कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्क्रिय किए आज हुआ 1 साल, लेकिन क्या वाकई हुए हैं कश्मीर में बदलाव?
source- google image

हांलांकि, घाटी में पत्थरबाजों की हरकतों पर थोड़ी नकेल कसी जा चुकी है। घाटी में पत्थरबाजी और दहशतगर्दी मे कमी देखने को मिल रही है मगर इसके उलट अब कश्मीर में आम लोगों की हत्याएं शुरू हो गई है। आतंकवादी अपना खौफ कायम करने के लिए घाटी में आए दिन आम लोगों की हत्या कर रहे हैं।

कश्मीरी पंडितों के सपने धरे के धरे:-

कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद कश्मीरी पंडितों को एक आस जगी थी कि वह अब अपने घर वापस जा सकते हैं। मगर अब कश्मीरी पंडितों को ऐसा लगता है जैसे उनके साथ धोखा हुआ है। अनुच्छेद 370 के हटने को 1 साल पूरे हो चुके हैं मगर अभी तक विस्थापित हुए कश्मीरी पंडितों को बसाने के लिए सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया। कश्मीरी पंडितों को उम्मीद थी कि जब कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्क्रिय किया जाएगा तब कश्मीरी पंडितों को घर वापसी की जाएगी। ‌

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


hi