बनारस हादसे में मरने वालों के पोस्टमार्टम के पैसे मांगने वाले ये कर्मचारी इंसान है या…?

0
17
बनारस हादसे

बनारस हादसे से जहां एक तरफ पूरा प्रदेश हिल गया है। तो वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं, जिसकी वजह से इंसानियत से आपका भरोसा उठ जाएगा। एक तरफ बनारस में कई लाशें पड़ी हुई तो वहीं दूसरी तरफ कर्मचारी अपनी जेब भरने से पीछे नहीं हट रहे हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

वाराणसी हादसे के बाद वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें उस घिनौने चेहरे पर से पर्दा हटाया जा गया है, जोकि प्रशासन के ऊपर से लोगों का विश्वास हटाता है। नाम जितेंद्र यादव। जौनपुर का रहने वाला है। कल शाम जब टीवी पर न्यूज देखी तो अपने ड्राइवर को फोन किया। लेकिन ड्राइवर ने फोन नहीं उठाया। जिसके बाद जितेंद्र भागा भागा घटनास्थल गया।

Loading…

घटनास्थल पर जाने के बाद जितेंद्र ने देखा कि उसकी भी गाड़ी मलबे में दबी थी। जिसके बाद वो बीएचयू जा पहुंचा, वहां भी उसके ड्राइवर का पता नहीं चला, लेकिन जब वो पोस्टमार्ट हाउस पहुचा तो पता  चला कि उसके ड्राइवर की मौत हो चुकी थी। ड्राइवर के अलावा ड्राइवर का पूरा परिवार इस हादसे का शिकार हो गया। ऐसे में हालात में जब इस शख्स ने परिजनों की लाशें मांगी और पोस्टमार्टम करने की बात कही…तो अस्पताल में मौजूद कर्मचारी ने उससे 300 रूपये मांगे।

बनारस हादसे

जितेद्र ने 300 रूपये तो दे दिये। लेकिन उसके बाद जब उसने देखा कि किसी और शख्स से पोस्टमार्टम के लिए 400-400 रूपये लिये जा रहे हैं, तो इस शख्स ने वीडियो बना कर वायरल कर दिया। सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद घूस लेने वाले कर्मचारियों को संस्पेंड कर दिया गया है, लेकिन इस तरह की हरकतें इंसानियत को शर्मसार कर देती है।

बनारस हादसे

याद दिला दें कि मंगलवार की शाम को बनारस में कैंट रेलवे स्‍टेशन के पास बड़ा हादसा हुआ। हादसे में 18 लोगों की जान गई। जिसके बाद सरकार ने इस पर दुख जताते हुए 5-5 लाख का मुआवजा देने का ऐलान किया। इस हादसे को लेकर भी सियासत जारी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here